कुछ कमती न मुझ | Kuch Kamati Na Mujh Ko Hogi lyrics | Yeshu Masih Ke Gane

कुछ कमती न मुझ | Kuch Kamati Na Mujh Ko Hogi lyrics | Yeshu Masih Ke Gane

कुछ कमती न मुझ को होगी,
मेरा यीशु मसीह है गड़रिया ।

मुझे हरी हरी घास चराता,
और निर्मल पानी पिलाता,
मुझे भूख पियास न होगी,
मेरा यीशु मसीह है गड़रिया |

वह मेरी जान बचाता,
और सच्ची राह दिखाता
इस राह में थकन न होगी,
मेरा यीशु मसीह है गड़रिया |

मृत्यु का भय जब छाये,
और मेरी जान दु:ख पाये,
तेरी छड़ी से हिम्मत होगी,
मेरा यीशु मसीह है गड़रिया ।

मेरे दुश्मन को तू हरावे,
मेरा दस्तरख्वान बिछावे,
खुशी उसको कुछ भी न होगी,
मेरा यीशु मसीह है गड़रिया |

मेरे सर पर तेल झलकता,
और प्याला मेरा छलकता,
तेरे घर में खुशी तब होगी,
मेरा यीशु मसीह है गड़रिया ।

कुछ कमती न मुझ | Kuch Kamati Na Mujh Ko Hogi lyrics in English


Kuch kamati na mujh ko hogi,
Mera yeshu masih hai gadriya

Mujhe hari hari ghas charaata,
Aur nirmal paani pilata,
Mujhe bhukh piyas na hogi,
Mera yeshu masih hai gadriya

Vah meri jan bachata,
Aur sachchi rah dikhata
Is rah men thakan na hogi,
Mera yeshu masih hai gadriya

Mrityu kaa bhay jab chhaye,
Aur meri jaan duahkh paye,
Teri chhadi se himmat hogi,
Meraa yeshu masih hai gadriya

Mere dushman ko tu harave,
Mera dastarakhvan bichhave,
Khushi usako kuchh bhi na hogi,
Mera yeshu masih hai gadriya

Mere sar par tel jhalakata,
Aur pyalaa mera chhalakata,
Tere ghar men khushi tab hogi,
Meraa yeshu masih hai gadriya.

No comments

Powered by Blogger.